वाणी-अभ्यावहति कल्याणं मुद्रण

वाणी
अभ्यावहति कल्याणं विविधं वाक् सुभाषिता ।
अच्छी तरह बोली गई वाणी अलग अलग प्रकार से मानव का कल्याण करती है ।